उद्देश्य 

देवसरे जी की बालसाहित्य के प्रति निष्ठा और प्रतिबद्धता को समर्पित 

न्यास आधुनिक, वैज्ञानिक और यथार्थवादी बालसाहित्य निर्माण और प्रोत्साहन के लिए प्रतिबद्ध है। 

भारतीय बालसाहित्य उन्नयन हेतु निर्धारित उपक्रम

 

डिजिटल माध्यमों द्वारा बालसाहित्य प्रचार प्रसार 

प्रतिष्ठित, अद्वितीय और स्तरीय 

बालसाहित्य पुरस्कार कार्यान्वयन 

प्रतिष्ठित, मानक संस्थाओं, 

संस्थानों के साथ सहयोग

Image_Sahitya_Akademi_logo.jpeg
Image_National Book Trust Logo.png
Image_Children%20Reading_edited.png

एक घर, एक शहर से शुरू हो कर, देवसरे न्यास, बालसाहित्य के प्रति अपनी प्रतिबद्धता और देवसरे जी के परिप्रेक्ष्य को, 

2000 से अधिक बाल साहित्यकारों और बाल हितार्थियों को 18 राज्यों और 44 नगरों में सार्थक रूप से,

वर्ष 2014 से लगातार पहुंचा रहा है। 

 

न्यास के मुख्य उद्देश्य 

1. भारत में बालसाहित्य के संवर्धन हेतु - पुरस्कार, छात्रवृत्ति, प्रमाण पत्र, पारितोषिक, प्रशस्ति पत्र, पदक, पुरस्कार-फलक, सम्मान पत्र आदि का प्रारम्भ , उनके प्रचलन, निरीक्षण, समन्वय, सह-सम्बन्ध स्थापित करना तथा उपर्युक्त कार्यों में सहयोग, अनुदान आदि की व्यवस्था। 

2. डिजिटल प्लेटफॉर्म और सोशल मीडिया एकाउंट्स का निर्माण एवं प्रबंधन करना, डिजिटल मीडिया द्वारा पुरस्कार प्रतियोगिता का प्रचार, प्रसार एवं संवर्धन। 

3. विशेषकर हिंदी बालसाहित्य के आधुनिक उन्नयन हेतु डिजिटल समाचार पत्र, डिजिटल वीडियो चैनल, ब्लॉग आदि का निर्माण, प्रबंधन एवं संवर्धन। 

4. भारतीय बालसाहित्य के विकास हेतु सम्मेलन, सभा, गोष्ठी, परिचर्चा, परिसंवाद, व्याख्यान, कार्यशाला, प्रशिक्षण कार्य, शिक्षण सत्र आदि का आयोजन, व्यवस्था, प्रबंधन, एवं संवर्धन।